व्यक्ति का स्वभाव भी दर्शाता है रंगों का चयन

व्यक्ति का स्वभाव भी दर्शाता है रंगों का चयन
पाश्चात्य एवं पूर्वी मनोविज्ञान में व्यक्तियों के द्वारा पसंद किये गये रंग के आधार पर उनके स्वभाव एवं चरित्र की खूबियों व कमियों का पता लगाये जाने की विधि काफी लोकप्रिय व रोचक है। रंग से किसी भी व्यक्ति के व्यवहार का गहरा संबंध है। किसी भी व्यक्ति के द्वारा पसंद किये गये रंगों के आधार पर उनका विचार, सोचने-समझने का तरीका व जीने का अंदाज आदि का काफी हद तक पता किया जा सकता है।

परन्तु जरूरी नहीं कि यहां दिए गए तथ्य पूर्ण रूप से उपयुक्त हों, बहुत से अपवादों के साथ आइए डालते हैं रंगों की भाषा पर एक नजर:-

सफेद रंग:-

सफेद रंग पसंद करने वाले व्यक्ति स्वभाव से ही कोमल, निश्छल एवं शांतिप्रिय होते हैं। इन्हें एक दूसरे के सुख में ज्यादा आनंद आता है। ऐसे व्यक्ति संयमित स्वभाव के होते हैं। स्पष्टवादिता, मितभाषिता, सादगी व ईमानदारी इनके स्वभाव के प्रमुख गुण होते हैं लेकिन स्पष्टवादी एवं आदर्शवादी होने के कारण इन्हें पारिवारिक व व्यवसायिक जीवन में कठिनाइयां उठानी पड़ती हैं।

लाल रंग:

लाल रंग को पसंद करने वाला व्यक्ति किसी से मोहब्बत या नफरत होने से उचित अनुचित का ध्यान नहीं रखता लेकिन व्यक्ति सामान्य अवस्था में उत्साह व गर्मजोशी से भरपूर होता है। लाल रंग सदा से क्र ांति का रंग रहा है इसलिए क्र ांतिवादी हमेशा लाल रंग के ही झंडे का प्रयोग करते हैं। चूंकि रक्त का रंग भी लाल ही होता है, लिहाजा लाल रंग क्र ोध, हत्या एवं क्र ांति का रंग है। जहां क्र ोध है वहां युद्ध है।

गुलाबी रंग:

गुलाबी रंग को पसंद करने वाला व्यक्ति उत्साही, खुशमिजाजी एवं व्यावहारिक होता है। सौम्यता व तरुणोचित स्वभाव इनकी विशेषता है। मन हमेशा सदाबहार व युवा बना रहता है।

हल्का गुलाबी, हल्का आसमानी:-

हल्का गुलाबी व हल्का आसमानी पसंद करने वाले व्यक्ति स्वभाव से रोमांटिक होते हैं। इनमें फूहड़पन नहीं होता। हर हाल में खुश रहने की कला जानते हैं। दूसरों की मदद लेना एवं दूसरों के मनोभाव जानने की कला में महारत हासिल होती है।

हरा रंग:-

हरा रंग पसंद करने वाला व्यक्ति सबल मानसिकता वाला होता है। दूरदर्शिता, कार्यकुशलता, व्यावहारिकता एवं विश्वसनीयता एवं नेतृत्व की शक्ति से परिपूर्ण होता है और किसी भी परिस्थिति में खुश रहने की चेष्टा करता है। हरा रंग मन एवं आत्मा को शांति प्रदान करने वाला होता है। इसलिए अस्पताल एवं कार्यालयों में हरे रंग का प्रयोग विशेष रूप से किया जाता है।

गहरा नीला:-

गहरे नीले रंग को पसंद करने वाला व्यक्ति अंतर्मुखी, विश्वसनीयता व मानवीयता से ओतप्रोत होता है। यह दिखावे की भावना से कोसों दूर रहने वाला एवं मनोभावों को तोड़ने में अनभिज्ञ होता है। इसमें आत्मविश्वास की कमी होती है और बच्चों की संगत भाती है।

काला रंग:-

काला रंग पसंद करने वाले व्यक्ति झगड़ालू प्रवृत्ति के होते हैं और हर दम निराशावादी व अपने में खोये-खोये से रहते हैं लेकिन दूसरों के मनोभाव को बहुत जल्दी ही ताड़ लेते हैं।

नारंगी रंग:-

नारंगी रंग पसंद करने वाले व्यक्ति आशावादी, मिलनसार और खुशमिजाज स्वभाव के होते हैं। इनकी बहुत से लोगों से मित्रता होती है।

बैंगनी रंग :-

बैंगनी रंग को पसंद करने वाले व्यक्ति कौतुहलप्रिय व बचकानी हरकत करने में माहिर होते हैं और गोपनीय व आत्मकेंद्रित स्वभाव के होते हैं।
-संजय कुमार ‘सुमन’

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here