take cre of your eyes in summer - Sachi Shiksha

आंखें हमारे शरीर का नाजुक भाग हैं पर इन नाजुक आंखों से हम सारे जहां की सुंदरता का आनंद उठाते हैं। हर बुरी अच्छी चीज की पहचान करते हैं,अगर हम इनकी देखरेख ढंग से नहीं करते तो हमें नुकसान उठाना पड़ता है। वैसे तो हर मौसम में हमें अपनी नाजुक आंखों की देखरेख करनी चाहिए पर गर्मी की तपती धूप से हमें आंखों को बचाकर रखना चाहिए।

Also Read :-

आंखों में खुश्की की समस्या

गर्मियों में वातावरण में शुष्कता होने पर आंखों में ड्राइनेस की समस्या बढ़ जाती हे। इससे आंखों का लाल होना, दर्द होना, पानी आना, खुजली होना लक्षण दिखाई देने लगते हैं।

कारण

गर्मियों में हम अधिकतर समय कूलर,एअरकंडीशनर में बिताते हैं जिनसे आंखें प्रभावित होती हैं।

सावधानी बरतें

  • जब गर्मी पूरे उफान पर हो जैसे 11 से 3 बजे तक तब बिना आवश्यक काम से घर से बाहर न निकलें।
  • आंखों को सीधी सूर्य की किरणों से बचाएं। घर से बाहर जाते समय गॉग्लस, हैट,कैप पहनें और छाता लेकर निकलें। ताकि आंखों पर सूर्य की किरणों का प्रत्यक्ष प्रभाव न पड़े।
  • जब भी बाहर से घर आएं तो ठंडे पानी से आंखें अच्छी तरह धो लें, ताकि आंखों पर प्रदूषण का प्रभाव कम से कम पड़े।
  • आंखों में ल्युब्रिकेटिंग आई ड्राप्स का प्रयोग करते रहें।
  • आंखों में अधिक दिन तक खुजली होने पर, लाल होने पर या पानी आने पर डाक्टर से संपर्क कर एंटी-एलर्जिक या एंटीबायोटिक्स आई ड्राप्स का प्रयोग कर आंखों को बचाएं।
  • जिनकी आंखें पहले से ही खुश्क हों, उन्हें अधिक सावधान रहना चाहिए।
  • प्रदूषण वाले स्थान पर जानें से बचें क्योंकि प्रदूषण हमारी आंखों से मौजूद आवश्यक पानी को खत्म करता है जो आंखों को और नुकसान पहुंचाता है।

रखें आहार का ध्यान:-

  • गर्मियों में नारियल पानी, नींबू पानी, छाछ, फलों का रस पिएं।
  • पर्याप्त पानी का सेवन करें जो हमारी त्वचा और आंखों के लिए लाभप्रद होता है।
  • नारंगी और लाल रंग के फल और सब्जियों का सेवन आंखों के लिए बेहतर है।
  • खीरा, ककड़ी, खरबूजा, तरबूज का सेवन गर्मिेयों में नियमित करें।

-नीतू गुप्ता

सच्ची शिक्षा  हिंदी मैगज़ीन से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें FacebookTwitter, LinkedIn और InstagramYouTube  पर फॉलो करें।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here