climbing the promotion ladder

प्रमोशन की सीढ़ी चढ़ें ऐसे

पढ़ाई पूर्ण होने के बाद अगला कदम होता है जॉब ढूंढना। जॉब मिलने पर आप कुछ ऐसा करें कि सफलता की सीढ़ियां चढ़ते जाएं। जब आप जॉब प्रारम्भ करते हैं तो मन के किसी कोने में यह इच्छा रहती है कि जल्दी ही आगे बढ़ें और आॅफिस या कंपनी में अपना एक विशेष-स्थान बनाएं ताकि सभी आपके काम और व्यवहार की प्रशंसा करें, आपको जानें।

ऐसी इच्छा पूरी करने के लिए कुछ ऐसा करें जिससे आप कभी पीछे मुड़कर न देखें, आगे ही आगे बढ़ते जाएं।

संबंधों में सामंजस्य बनाएं:-

अनुभवियों का कहना है कि प्रमोशन हेतु अपने सहयोगियों, सीनियरों और जूनियरों के साथ संबंधों में सामंजस्य बनाएं। तर्क वितर्क कम करें और सही अवसर आने पर अपनी उपयुक्त टिप्पणी दें। अच्छे मधुर संबंध भविष्य में हमेशा मदद करते हैं। किसी से भी इतनी घनिष्ठता व समीपता न बनायें कि लोगों को यह लगे कि आप मक्खन पॉलिश कर रहे हैं और इतनी दूरियां भी न रखें कि सहयोगी आपको घमण्डी व नकचढ़ा कहें।

आज का अभी, कल पर न छोड़ें:-

जहां पर भी आप कार्यरत हों, काम को आज ही पूरा करें। यदि आप कंपनी के लिए सुस्त सिद्ध होंगे तो आपको प्रमोशन मिलना मुश्किल होगा। हर कंपनी यह चाहती है कि जितना पैसा वे आपको देते हैं, उसके बदले आप उन्हें कितना लाभ पहुंचाते हैं। कंपनी के लिए प्रॉडक्टिव बनें तो कंपनी में प्रमोशन के लिए कोई बाधा नहीं रहेगी।

स्वयं को प्रस्तुत करना सीखें:-

यदि आप अपने कार्यस्थल के लाभ हेतु कुछ करते हैं तो उस लाभ को कंपनी के जिम्मेदार लोगों के सामने इस ढंग से प्रस्तुत करें कि वे आपकी प्रशंसा किए बिना न रह पाएं। कम काम करके अधिक का दिखावा न करें। ऐसा करना उलटा प्रभाव भी डाल सकता है। काम को इस ढंग से प्रस्तुत करें कि उन्हें आपका स्वार्थ नजर न आये।

सकारात्मक बनें:-

अपने सीनियर्स के प्रति सकारात्मक सोच रखें और उनसे पॉजिटिव संबंध रखें। हमेशा शिकायत ही न रखें। अपने से जूनियर्स के प्रति भी सकारात्मक रहें। हमेशा गिले-शिकवे रखने वाले भी अपना विशेष स्थान नहीं बना पाते। अपने काम और संबंधों के प्रति पॉजिटिव एटीच्यूड रखें।

नये प्रोजेक्ट के लिए मेहनत करें:-

प्रमोशन के लिए कुछ नया सीखने के लिए हमेशा तैयार रहें। अपने क्षेत्र में अपडेट रहें। सफलता ऐसे लोगों के कदम चूमती है जो एक्टिव और हार्डवर्किंग होते हैं। नये प्रोजेक्ट को मेहनत से पूरा करें ताकि सब की निगाहों में आपका काम नजÞर आये। यदि आप अपने प्रोजेक्ट को समय और मेहनत से पूरा करने में असमर्थ होंगे तो आपकी इमेज सुधरने के स्थान पर खराब ही होगी।

टीम-वर्क को अपना समझ कर आगे बढ़ें:-

आज का समय टीम वर्क का है। अपनी टीम में कभी भी पीछे न रहें। अपनी क्षमता अनुसार काम करें। टीम वर्क में आवश्यकता होती है अच्छे संबंध और धैर्य की। सभी के साथ मिलकर काम करें और जो टीम में स्लो हैं, उनके साथ धैर्यपूर्वक चलें। मीठे संबंधों से एक्टिव नेटवर्क बनाने में सफल हो सकते हैं।

जिम्मेदारियां मांगें और निभाएं:-

जिस काम की जिम्मेदारी दी जाए, उसे पूरा करें। जिम्मेदारियों से बचने वाले कभी आगे नहीं बढ़ सकते। जिम्मेदारियां कम करवाने के स्थान पर जिम्मेदारियां मांगें। यदि आप कंपनी के प्रॉडक्टिव मैम्बर हैं तो आपको आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक पायेगा और इसी प्रकार आप एक दिन शिखर पर पहुंच सकते हैं। -नीतू गुप्ता

सच्ची शिक्षा हिंदी मैगज़ीन से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें FacebookTwitterGoogle+, LinkedIn और InstagramYouTube  पर फॉलो करें।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here