Dera Sacha Sauda
Parenting tips in hindi to raise your children effectively - Sachi Shiksha

Parenting Tips in Hindi: डोर ढीली छोड़िए, बच्चे को कुछ करने दीजिए

एक जमाना था जब मां अपने घर का काम करती रहती थीं या थक-हार कर दोपहर में सोई रहती थी और उनका बच्चा दुनिया जहान की शैतानियां करता रहता, इधर-उधर खेलता, कभी पड़ोसियों के...
Navjaat Shishu Ki Dekhbhal Kaise Karen - Sachi Shiksha

नवजात शिशु को चाहिए मां की पूरी देखभाल: Navjaat Shishu Ki Dekhbhal Kaise Karen

नवशिशुओं को पालना अपने आप में एक बड़ा काम है। शादी के बाद महिलाओं की जिम्मेदारियां बढ़ जाती हैं, विशेषकर जब वे मां बनती हैं। इतने छोटे-छोटे काम दिनभर में बढ़ जाते हैं कि...
Do not let the child grow angry - Sachi Shiksha

बच्चे के गुस्से को बढ़ने न दें

गुस्सा कभी भी किसी को भी किसी उम्र में आना आम बात है। बच्चे हों, बड़े या बूढ़े, गुस्सा हर आयु में नुकसान पहुंचाता है। अगर बच्चों को बचपन से उनके गुस्से पर काबू...
khudna jaruri hai baccho ke liye - Sachi Shiksha

खेलना कूदना जरूरी है बच्चों के लिए

एक डेढ़ दो दशक पूर्व तक तो माना जाता था कि पढ़ोगे लिखोगे तो बनोगे नवाब। अब सोच में कुछ बदलाव आया है। मात्र किताबी कीड़ा बनकर रहने वाले बच्चे आल राउंडर नहीं बन...
Say Sorry in a Special Way - Sachi Shiksha

कुछ खास अंदाज में कहें ‘सॉरी’

जब किसी की भावना को ठेस पहुंचती है तो प्यार से भरा ‘आई एम सॉरी’ मरहम का काम करता है। रिश्तों में मधुरता लाता है, बिखरने से बचाता है, बरसों के बने रिश्तों को...
Sukanya Samriddhi Yojana - Sachi Shiksha

सुकन्या समृद्धि योजना

बेटी के भविष्य को सफल बनाएं  10 साल से कम उम्र की बच्ची के लिए उच्च शिक्षा और शादी के लिए बचत करने के लिहाज से केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना एक अच्छी निवेश योजना है। निवेश के इस विकल्प में पैसे लगाने से आपको इनकम  टैक्स बचाने में भी मदद मिलती है। जो लोग शेयर बाजार के जोखिम से दूर रहना चाहते हों और फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) में गिरते ब्याज दर से परेशान हों, सुकन्या समृद्धि योजना उनके लिए बेहतरीन कदम साबित हो सकती है।
teach civilization for children - Sachi Shiksha

बच्चों को थोड़ी सभ्यता सिखाइए

अपने उद्दंड असभ्य व्यवहार के लिए क्या पूर्णत: बच्चे ही दोषी हैं? आंशिक रूप से माना यह जीन्स का खेल है वर्ना क्यों एक ही घर में एक से वातावरण में पले बढ़े बच्चों...
बच्चे पढ़ने से कतराते क्यों हैं sachi shiksha

बच्चे पढ़ने से कतराते क्यों हैं…?

हर कोई चाहता है कि उनका बच्चा पढ़ाई में सबसे ‘अव्वल’ रहे। बच्चा अपनी शक्ति भर पढ़ने-लिखने की कोशिश करता भी है, फिर भी न पढ़ने की शिकायत अधिकतर माता-पिता की बनी रहती है।...
Build Confidence in Children - Sachi Shiksha

बच्चों में आत्म-विश्वास पैदा कर

जब स्कूल में कोई बच्चा होशियार होने के बावजूद अपने अन्य कमजोर साथियों से पीछे रह जाता है तो उसमें आत्म-विश्वास की कमी होने लगती है। ऐसे में बच्चे के माता-पिता उसको डांटते हैं...
warn kids about friends - Sachi Shiksha

बच्चों को दोस्तों के प्रति आगाह रखें

किशोरावस्था जीवन का महत्वपूर्ण पड़ाव है। इस उम्र में बच्चों में बहुत बदलाव आते हैं। बच्चों को इस उम्र में समझ पाना जितना जटिल काम है उतना कभी नहीं। बच्चों के विकास में उनके...
School children become addicted to mobile - Sachi Shiksha

स्कूली बच्चे हो गये मोबाइल के आदी

वह समय भी था कि मोबाइल तो कोई जानता नहीं था। फोन भी इक्का दुक्का घरों में होते थे। जरूरी बात करनी होती थी तो वहीं जा कर की जाती थी। आज हर व्यक्ति...
Are you shy

क्या आप संकोची हैं?

बहुत कम लोग सार्वजनिक रूप से यह स्वीकार पाते हैं कि वे संकोची स्वभाव के या शर्मीले हैं। ऐसे स्वभाव वाले व्यक्तियों को अंतर्मुखी भी कहा जाता है। ऐसे व्यक्तियों के लक्षण प्राय: बातचीत...
How to take care of single mother baby

सिंगल मदर छोटे बच्चे की देखभाल कैसे करें

इत्यादि ऐसे किसी भी कारण से बच्चे को अकेले पालने की जिम्मेदारी मां पर आ सकती है। ऐसे में पहली दो स्थितियों में मां स्वयं मानसिक रूप से तनाव ग्रस्त होती है, उस पर मानसिक तनाव के साथ-साथ आर्थिक समस्या भी होती है कि अकेले छोटे बच्चे को कैसे पाल पोस कर संस्कारी बना सके।
अच्छी नहीं है नेल बाइटिंग की आदत

अच्छी नहीं है नेल बाइटिंग की आदत

बच्चों का नेल बाइटिंग करना आम है। अक्सर हम बच्चों को उनकी इस आदत पर टोकते हैं। आइए जानें, बच्चे नाखून क्यों कुतरते हैं। यह भी जरूरी है कि ऐसी स्थिति में बच्चों को कैसे...
Baccho Ke Liye Healthy Food - Sachi Shiksha

किस उम्र में बच्चों को कौन सा खाना दिया जाना चाहिए

बचपन में देंगे ऐसा आहार, तो उम्र भर बीमारियों से दूर रहेंगे बच्चे Baccho Ke Liye Healthy Food: अक्सर जब बात हो बच्चों के खाने की तो हर माता-पिता की एक ही दुविधा होती है...
holiday is fun

छुट्टी का दिन हो मौजमस्ती भरा

छुट्टी का दिन हो मौजमस्ती भरा हमारी रूटीन लाइफ में छुट्टियां बहुत खास होती हैं और सप्ताह भर में रविवार का दिन ही तो ऐसा होता है जो पूरे परिवार के लिए खास होता है।...
प्रमोशन की सीढ़ी चढ़ें ऐसे

प्रमोशन की सीढ़ी चढ़ें ऐसे

प्रमोशन की सीढ़ी चढ़ें ऐसे पढ़ाई पूर्ण होने के बाद अगला कदम होता है जॉब ढूंढना। जॉब मिलने पर आप कुछ ऐसा करें कि सफलता की सीढ़ियां चढ़ते जाएं। जब आप जॉब प्रारम्भ करते हैं...
अपने बच्चे के लिए चुनें बेस्ट स्कूल - सच्ची शिक्षा

अपने बच्चे के लिए चुनें बेस्ट स्कूल

अप्रैल का महीना आ चुका है। कुछ बच्चे अपने-अपने एग्जाम देकर फ्री हो चुके हैं, तो कुछ बच्चे अपने एग्जाम की तैयारी कर रहे हैं। वहीं सामान्यत: बोर्ड एग्जाम को छोड़कर अन्य सभी कक्षाओं...
Puppet Culture at Dusshara

विजयदशमी में कठपुतली परम्परा | Puppet Culture at Dusshara

विजयदशमी में कठपुतली परम्परा | Puppet Culture at Dusshara रामलीला की कठपुतली परंपरा दक्षिण भारत से होती हुई दक्षिण पूर्व एशिया के देशों में पहुंची। कंबोडिया, थाईलैंड, इंडोनेशिया और मलेशिया में वह आज भी विविध रूपों...

नवीनतम

तीन-चार साल पहले प्लानिंग जरूरी, राह होगी आसान | विदेश में...

तीन-चार साल पहले प्लानिंग जरूरी, राह होगी आसान विदेश में पढ़ाई: विदेश में पढ़ाई करना स्टूडेंट्स के लिए किसी सपने की तरह होता है। हालांकि अमीरों...

क्लिक करे

1,142फैंसलाइक करें
7,876फॉलोवरफॉलो करें
247फॉलोवरफॉलो करें
23फॉलोवरफॉलो करें
89,389फॉलोवरफॉलो करें
35,500सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

विशेष

पुराना

कैंसर को किया कैंसिल

सत्संगियों के अनुभव पूज्य हजूर पिता जी की रहमत प्रेमी विजय कुमार इन्सां (विजय बंसरी वाला) सुपुत्र प्रेमी सतपाल इन्सां मेला ग्राउंड शाह सतनाम जी...

प्रचण्ड आग से सुरक्षित निकाला

सत्संगियों के अनुभव - पूज्य परम पिता जी की रहमत प्रचण्ड आग से सुरक्षित निकाला प्रेमी दारा खान इन्सां निवासी न्यू गुरु अर्जनदेव जी कालोनी...

बेटी को हर बात समझाए मां

बेटी को हर बात समझाए मां :  माँ-बेटी का रिश्ता बड़ा ही प्रेम से भरपूर व विश्वासी होता है। बेटी अपने सबसे करीब मां को...

होटल ऐसे समुद्र में 20 फीट नीचे

अक्सर जब भी किसी लग्जरी होटल रूम की बात होती है तो कई लोग कल्पनाओं की उड़ान भरने लगते हैं। एक ऐसी ही कल्पना...

सेवा के साथ सुमिरन करो, सोने पे सुहागा

रूहानी सत्संग (3 जुलाई 2016)  डेरा सच्चा सौदा शाह सतनाम जी धाम, सरसा मालिक की प्यारी साध-संगत जीओ! इस कलयुग में दृढ़ यकीन, श्रद्धा-भावना अपने...