Authentic and traditional foods - Lohri ki thali - Sachi Shiksha

अब त्योहार का मौका है तो खाने-पीने के बिना तो त्योहार का मजा अधूरा ही रह जाएगा ना। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं उन पांच पारंपरिक पकवानों के बारे में जिनके बिना आपकी लोहड़ी की थाली अधूरी रह जाएगी। लिहाजा आप भी लोहड़ी के इन पकवानों को जरूर बनाएं।

सरसों का साग

सर्दियों का मौसम शुरू होते ही सरसों का साग खाने का मौसम आ जाता है और लोहड़ी की थाली सरसों के साग के बिना तो बिलकुल ही अधूरी है। सरसों के साग की खासियत ये है कि इसमें फॉलेट, आयरन और कई पोषक तत्व होते हैं जो शरीर को हेल्दी रखने में मदद करते हैं। सरसों के साग में पंजाबी मसाले डालकर इसे बनाएं और फिर ऊपर से बटर यानी मक्खन डालकर सर्व करें।

आटे का लड्डू

आटा, गुड़ और घी- इन तीन सिंपल सामग्रियों से तैयार हो जाएगा आटे का लड्डू। सर्दी के मौसम में ज्यादातर मीठी चीजों में चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल होता है क्योंकि यह शरीर को गर्म रखने का काम करता है। लिहाजा अपने आटे के लड्डू को भी गुड़ के साथ बनाएं और आप चाहें तो इसमें थोड़े ड्राई फ्रूट्स भी ऐड कर सकते हैं।

Also Read: लोहड़ी विशेष रेसिपी | तिल के लड्डू बनाने की विधि

गुड़ की गजक

यह पंजाब की पारंपरिक रेसिपी है जिसके बिना लोहड़ी का त्योहार अधूरा सा लगता है। आप चाहें तो गजक को घर में बनाने की बजाए मार्केट से भी खरीद कर ला सकते हैं। सर्दी के मौसम में गजक बड़ी तादाद में मार्केट में बिकने लगती है। ऐसे में लोहड़ी के मौके पर गुड़ की गजक लाएं और अलाव के पास ही बैठकर परिवार संग इसका लुत्फ उठाएं।

गन्ने के रस की खीर

कोई भी त्यौहार मीठे के बिना अधूरा होता है। लोहड़ी के मौके पर गन्ने के रस की खीर बनाने का प्रचलन है। ये डिश बेहद स्वादिष्ट होती है और कम समय में बन भी जाती है। इस खीर को आप चावल की खिचड़ी के साथ ट्राई कर सकते हैं।

गाजर का हलवा और गुड़ के मालपुए

पंजाब में लोहड़ी के मौके पर गाजर का हलवा, मसाला मिल्क और गुड़ के मालपुए बनाने की परंपरा है और ये काफी लंबे समय से चलता आ रहा है। भले ही आप इस लोहड़ी पंजाब में नहीं हैं लेकिन आप इस दिन इन डिशेज को बनाकर इस त्यौहार को खास बनाते हुए पारंपरिक टच दे सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here